BPSC Ki Taiyari Kaise Kare? जानें महत्वपूर्ण किताबें और टिप्स

पिछले वर्ष (2021) की बीपीएससी परीक्षा यानी 66वीं बीपीएससी परीक्षा में कुल 2,80,882 अभ्यर्थी शामिल हुए थे. जिनमें से सिर्फ 8,997 परीक्षार्थी ही इस परीक्षा में उत्तीर्ण हो पाए. इससे आप इसके कंपटीशन का अंदाजा लगा सकते हैं. लेकिन कंपटीशन को देखकर घबराने की जरूरत नहीं हैं. अगर आप सही रणनीति बनाकर अच्छे से इस परीक्षा की तैयारी करेंगे तो जरूर सफल होंगे. तो आइए विस्तार से जानते है कि BPSC ki taiyari kaise kare?

ऊपर दिए गए डाटा से आपको ये तो पता चल गया की इसमें गला कट प्रतिस्पर्धा (cut throat competition) हैं. जो की सरकारी परीक्षा में आम बात है. लेकिन इसमें सभी परीक्षार्थी परीक्षा को लेकर गंभीर नहीं होते है. कई अभ्यर्थी अपने माता-पिता / अभिभावक के कहने पर, दोस्त के कहने पर या अपनी किस्मत आजमाने के लिए ऐसे ही इस परीक्षा में बैठ जाते हैं. उनमें से बहुत सारे अभ्यर्थी प्रीलिम्स में ही छंट जाते है. 

तो इसका मतलब ये हुआ की अगर आप परीक्षा को लेकर गंभीर है तो फिर आपके लिए बहुत ज्यादा कंपटीशन नहीं है. इसलिए अगर आप इस पोस्ट में बताएं गए BPSC preparation strategy in hindi के अनुसार इस परीक्षा की तैयारी करते है तो आप जरूर इस परीक्षा को पास कर सकते हैं.

इस पोस्ट में हमलोग जानेंगे कि बीपीएससी का तैयारी कैसे करें? जिसके अंतर्गत इस परीक्षा के तीनों चरण यानी प्रारंभिक परीक्षा (prelims), मुख्य परीक्षा (mains) और साक्षात्कार (interview) की तैयारी के लिए किताब और टिप्स जानेंगे. अंत में BPSC की तैयारी से जुड़े कुछ FAQs भी देखेंगे. तो इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें.

BPSC Ki Taiyari Kaise Kare

किसी भी परीक्षा की तैयारी करने से पहले उसके बारे में अच्छे से जानना जरूरी हैं. जैसे उस परीक्षा के लिए पात्रता क्या है? उसका परीक्षा पैटर्न क्या है?, आदि. बीपीएससी संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा (BPSC CCE) से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी आप इस पोस्ट में जान सकते हैं.

BPSC सिविल सेवा परीक्षा: पात्रता, एग्जाम पैटर्न और आवेदन प्रक्रिया

परीक्षा के बारे में आधारभूत जानकारी (basic knowledge) हो जाने के बाद उसके पाठ्यक्रम को अच्छे से समझें. पूरी तैयारी के दौरान BPSC का पाठ्यक्रम (syllabus) अपने पास रखें और उसी के अनुसार अध्ययन करें.

BPSC Ki Taiyari Kaise Kare
BPSC Prepration

पाठयक्रम भी आपके पास आ गया अब अगला स्टेप है कि BPSC की तैयारी के लिए महत्वपूर्ण किताबें (BPSC preparation books in hindi) खरीदें. BPSC ki taiyari ke liye book खरीदने से पहले ये सुनिश्चित कर लें कि उसमें इसका पाठ्यक्रम अच्छे से कवर हो.

अब आपके पास जितना समय है उसके अनुसार आप अपना एक अच्छा सा टाइम टेबल बना लें. क्योंकि किसी भी परीक्षा की तैयारी में टाइम टेबल की भूमिका बहुत अहम होती है. और जब बात आती है सिविल सेवा परीक्षा की तो इसका महत्त्व और भी ज्यादा बढ़ जाता है. इसके मदद से ही आप योजनाबद्ध अध्ययन कर सकते हैं.

BPSC PT Ki Taiyari Kaise Kare

बीपीएससी के प्रारंभिक परीक्षा (prelims) में सामान्य विज्ञान, भूगोल, राजव्यवस्था, इतिहास, अर्थव्यवस्था और समसामयिक घटनाएं से प्रश्न रहते हैं.

इसके अलावा इसमें सामान्य मानसिक योग्यता को जांचने वाला प्रश्न भी पूछा जाता है.

आइए अब BPSC तैयारी सामग्री (resources) और BPSC तैयारी रणनीति (strategy) जानते हैं. यानी इस परीक्षा की तैयारी के लिए क्या-क्या पढ़ना होगा, कैसे पढ़ना होगा, कितना पढ़ना होगा, आदि.

बिहार से संबंधित (Bihar specific) प्रश्न की तैयारी के लिए किताब और टिप्स

बीपीएससी परीक्षा में बिहार से संबंधित लगभग 30 प्रश्न होते हैं. जिसमें बिहार के इतिहास, भूगोल, सामान्य ज्ञान और करेंट अफेयर्स से प्रश्न रहते हैं.

बिहार के इतिहास की तैयारी के लिए इमत्याज अहमद और कमर अहसन की “बिहार: एक परिचय” किताब सबसे प्रसिद्ध और उपयोगी है. इसमें बिहार के इतिहास के बारे में बहुत अच्छे से बताया गया है (BPSC bihar specific book in hindi).

ऊपर बताया गया किताब कांसेप्ट पर आधारित है, यानी इसमें सभी चीजें विस्तार से बताई गई है. लेकिन अगर आपको कांसेप्ट क्लियर है और अब सिर्फ प्रैक्टिस करना चाहते है तो आपके लिए इमत्याज अहमद और रजनीश कुमार की “बिहार: एक परिचय (वस्तुनिष्ठ)” बहुत अच्छी है. इसमें पूरा MCQs ही दिया गया है.

आप अगर कोई ऐसी किताब जानना चाहते है जिससे बिहार के इतिहास और भूगोल दोनों की तैयारी हो जाए. तो आप महेश कुमार वर्णवाल की “बिहार: एक समग्र अध्ययन” पढ़ सकते है.

बिहार से जुड़े सामान्य ज्ञान (GK) की तैयारी के लिए क्राउन पब्लिकेशंस की “बिहार सामान्य ज्ञान” बहुत उपयोगी है. दिए गए लिंक से आप इस किताब का नवीनतम संस्करण (latest edition 2022) खरीद सकते है.

करेंट अफेयर्स की तैयारी के लिए आप घटनाचक्र या केबीसी नैनो का “बिहार वार्षिकी” पढ़ सकते हैं. इसके अलावा आप यूट्यूब से भी करेंट अफेयर्स की तैयारी कर सकते हैं. Study for Civil Services एक बहुत ही अच्छा यूट्यूब चैनल है जहां आपको मासिक (monthly) करेंट अफेयर्स मिलता है.

सामान्य विज्ञान, गणित और अर्थव्यवस्था की तैयारी के लिए किताब और टिप्स

सामान्य विज्ञान से 20 प्रश्न रहते है. इसकी तैयारी के लिए लूसेंट पब्लिकेशंस का “सामान्य विज्ञान” पढ़ सकते हैं. ये काफी है, इसमें ज्यादा कठिन प्रश्न नहीं पूछे जाते हैं (BPSC GK book in hindi).

गणित से इसमें 10 प्रश्न होते हैं. डॉ आर एस अग्रवाल की “नवीन अंकगणित” एक बहुत ही अच्छी किताब है, गणित की तैयारी के लिए (BPSC maths book in hindi).

इस परीक्षा में अर्थव्यवस्था से दो प्रकार के प्रश्न होते है:

  1. करेंट अफेयर्स पर आधारित 
  2. वैचारिक (conceptual)

करेंट अफेयर्स की जो किताब पहले बताई गई है, उसमें ही अर्थव्यवस्था का करेंट अफेयर्स भी कवर हो जाएगा. 

वैचारिक (conceptual) ज्ञान लेने के लिए आप रमेश सिंह की “भारतीय अर्थव्यवस्था” पढ़ सकते हैं. (BPSC economics book in hindi).

इसके साथ-साथ मृणाल सर (Mrunal Patel) का यूट्यूब वीडियो देख सकते हैं. अपनी वीडियो में ये बहुत अच्छी तरह (कुछ मजाकिए अंदाज में) से अर्थव्यवस्था के कॉन्सेप्ट को समझाते हैं.

इतिहास, भूगोल और राजव्यवस्था की तैयारी के लिए किताब और टिप्स

बीपीएससी के प्रारंभिक परीक्षा में इतिहास के तीनों भाग (प्राचीन, मध्यकालीन और आधुनिक इतिहास) से प्रश्न आते हैं. प्राचीन और मध्यकालीन इतिहास से बहुत कम प्रश्न आते है. इसलिए इसकी तैयारी के लिए NCERT की किताब काफी है.

आधुनिक इतिहास से सबसे ज्यादा प्रश्न होते है तो इसके लिए एनसीईआरटी के अलावा आप बिपिन चन्द्र की “आधुनिक भारत का इतिहास” पढ़ सकते है (BPSC history book in hindi).

भूगोल के लिए भी एनसीईआरटी की किताब बहुत उपयोगी है. इसके अलावा आप महेश कुमार वर्णवाल की किताब “भूगोल: एक समग्र अध्ययन” पढ़ सकते हैं (BPSC geography book in hindi).

अंत में बचता है राजव्यवस्था (polity) तो इसकी तैयारी के लिए एम लक्ष्मीकांत की “भारत की राजव्यवस्था” किताब बहुत प्रसिद्ध है. और ये काफ़ी भी है. इससे बाहर कुछ भी पढ़ने की जरूरत नहीं है (BPSC polity book in hindi).

इन किताबों को पढ़ने के साथ-साथ पिछले साल के प्रश्न पत्रों (previous year question papers) को भी हल करें. जिससे आपको किस विषय से कितने प्रश्न आते हैं और कैसे प्रश्न आते है पता चलता है.

BPSC प्रीलिम्स के प्रीवियस ईयर क्वेश्चन के लिए आप घटनाचक्र पब्लिकेशंस का “पूर्वावलोकन” किताब ले सकते हैं. इसमें उत्तर सहित पिछले साल के प्रश्न दिए गए हैं.

बीपीएससी प्रारंभिक परीक्षा के बारे में

इस परीक्षा के सामान्य अध्ययन का पेपर 150 अंक का होता है. इसमें प्रत्येक प्रश्न 1 अंक का होता है, यानी कुल 150 प्रश्न होते है. सभी प्रश्न बहुविकल्पीय (MCQs) होते है.

प्रत्येक प्रश्न के उत्तर के लिए इसमें पांच विकल्प होते है. A,B,C,D & E. अभ्यर्थी को OMR शीट पर प्रश्न संख्या के अनुरूप सही विकल्प को मार्क करना होता है.

इसमें पांचवा विकल्प यानी E बहुत भ्रामक (confusing) होता है. इस विकल्प में ‘इनमें से कोई नहीं/ एक से अधिक’ लिखा होता है. इसलिए इसको चुनते समय सावधानी बरतें.

जैसा कि आप जानते हैं कि इसमें नेगेटिव मार्किंग का कोई प्रबंध है. इसलिए सभी प्रश्न को अटेंप्ट करें.

BPSC Mains Ki Taiyari Kaise Kare

प्रीलिम्स के बाद 3 से 4 महीने मिलते है मेंस की तैयारी के लिए. अगर आप प्रीलिम्स की तैयारी में ही अच्छे से कांसेप्ट समझे होंगे तो मेंस आपके लिए आसान हो जाएगा.

बीपीएससी मुख्य लिखित परीक्षा में कुल चार पेपर होते है, जो निम्नलिखित है:

  1. सामान्य हिंदी (General hindi)
  2. सामान्य अध्ययन – पत्र 1 (GS l)
  3. सामान्य अध्ययन – पत्र 2 (GS ll)
  4. एच्छिक विषय (optional subject)

सामान्य हिंदी की तैयारी के लिए किताब और टिप्स

सामान्य हिंदी का पेपर 100 अंक का होता है. जिसमें से निबंध और व्याकरण 30-30 अंक के होते है, तो वहीं वाक्य विन्यास 25 अंक का तथा संक्षेपन 15 अंक का होता है.

आप सामान्य हिंदी की तैयारी के लिए डॉ राघव प्रकाश और डॉ सविता पायवाल की “व्यवहारिक सामान्य हिंदी” पढ़ सकते हैं (BPSC hindi book).

सामान्य अध्ययन पत्र – 1 (GS 1) की तैयारी के लिए किताब और टिप्स

जीएस-1 में राष्ट्रीय तथा अन्तर्राष्ट्रीय महत्व का वर्तमान घटना चक्र, आधुनिक इतिहास और भारतीय संस्कृति, एवं सांख्यिकी विश्लेषण आरेखन तथा चित्रण से प्रश्न होते है.

इस पेपर में आधुनिक भारत के इतिहास के साथ-साथ बिहार के आधुनिक इतिहास से जुड़ा प्रश्न भी होता है.

आधुनिक भारत के इतिहास की तैयारी के लिए बिपिन चंद्र की वही किताब का गहन अध्ययन कर सकते हैं. जो प्रीलिम्स के लिए बताया गया है. 

इसके अलावा इसमें कुछ प्रश्न महात्मा गांधी, जवाहर लाल नेहरु और रविंद्र नाथ टैगोर से भी जुड़े रहते हैं. इसके लिए आप स्पेक्ट्रम पब्लिकेशंस की “गांधी, नेहरू, टैगोर तथा आधुनिक भारत के अन्य प्रसिद्ध व्यक्तित्व” पढ़ सकते है.

बिहार के आधुनिक इतिहास की जानकारी आप इम्त्याज अहमद की “बिहार: एक परिचय” किताब से ले सकते हैं.

राष्ट्रीय तथा अन्तर्राष्ट्रीय महत्व के वर्तमान घटना चक्र की जानकारी आपको मैगजीन और समाचार पत्र से मिलेगा. मैगजीन में प्रतियोगिता दर्पण, घटना चक्र, आदि पढ़ सकते है तो वहीं समाचार पत्र में जनसत्ता या प्रभात ख़बर पढ़ सकते है. अगर आप अंग्रेजी पढ़ना जानते है तो The Hindu या The Indian Express नियमित रूप से जरूर पढ़ें.

सांख्यिकी (statistics) में डाटा इंटरप्रेटेसन का प्रश्न होता है. इसमें फ्लो चार्ट, वेन डायग्राम आदि से प्रश्न आते हैं. इसकी तैयारी के लिए आप स्पेक्ट्रम पब्लिकेशंस का “सांख्यिकी विश्लेषण: ग्राफ एवं आरेख” पढ़ सकते है (BPSC statistics book in hindi).

जीएस-1 पेपर 300 अंक का होता है. इस पेपर में आपको कुल 8 प्रश्न हल करने होते है. अच्छी बात ये है कि इसमें आपको विकल्प दिया रहता है. 

पहले सेक्शन यानी इतिहास से 5 प्रश्न होंगे जिसमें से आपको 3 हल करना है. दूसरे सेक्शन यानी करेंट अफेयर्स से चार प्रश्न होंगे, जिसमें से आपको 3 प्रश्न हल करना है, तथा तीसरे सेक्शन यानी सांख्यिकी से 5 प्रश्न होंगे जिसमें से आपको 2 प्रश्न हल करना है.

सामान्य अध्ययन पत्र – 2 (GS 2) की तैयारी के लिए किताब और टिप्स

इस पेपर में भारतीय राजव्यवस्था, भारतीय अर्थव्यवस्था, भारत का भूगोल और विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी से प्रश्न आते हैं.

भारतीय राजव्यवस्था की तैयारी के लिए एम लक्ष्मीकांत की किताब पढ़ लीजिए जो आपको बीपीएससी प्रीलिम्स की तैयारी वाले सेक्शन में बताया गया है. वही काफ़ी है.

भारतीय अर्थव्यवस्था और भारत के भूगोल के लिए भी जो किताब ऊपर (प्रीलिम्स वाले सेक्शन में) बताया गया है. उसी से तैयारी करें. मेंस में आपको ज्यादा लिखना होता है, इसलिए सभी किताबों का गहन अध्ययन करें.

राजव्यवस्था, अर्थव्यवस्था और भूगोल से पूछे गए सवाल में कुछ सवाल बिहार से जुड़े हुए भी रहेंगे. तो इसके लिए आप बिहार का करेंट अफेयर्स और ऊपर बताई गई बिहार से जुड़ी हुई किताबें पढ़ सकते है.

विज्ञान और प्रौद्योगिकी में आपको कुछ करेंट अफेयर्स का पार्ट भी रहता है कि प्रौद्योगिकी में नवीनतम क्या-क्या विकास हो रहा है. तो वो तो मैगजीन से ही कवर होगा. 

विज्ञान और प्रौद्योगिकी की तैयारी के लिए रवि पी अग्रहरी की “विज्ञान और प्रौद्योगिकी” किताब बहुत उपयोगी है (BPSC science & technology book in hindi).

ऐच्छिक विषय (Optional Subject)

BPSC मुख्य लिखित परीक्षा में आखरी पेपर ऐच्छिक विषय का होता है. इसमें विभिन्न भाषाओं के साहित्य सहित कुल 34 विषय होते है, जिसमें से आपको कोई एक सब्जेक्ट चुनना होता है.

ग्रेजुएशन में जो आपका विषय था वो आप ऑप्शनल में चुन सकते है या फिर जो भी विषय आपको अच्छा लगता हो, जिसमें आपकी अच्छी पकड़ हो चुन सकते है.

अगर आप किसी भी ऐच्छिक विषय की तैयारी के लिए महत्वपूर्ण किताब और टिप्स जानना चाहते है तो कॉमेंट में जरूर बताएं.

ये भी पढ़ें > BPSC AE की तैयारी के लिए महत्वपूर्ण टिप्स और किताब

BPSC Interview Ki Taiyari Kaise Kare

बीपीएससी परीक्षा के अंतिम चरण में साक्षात्कार (interview) होता है. ये कुल 120 अंक का होता है. इंटरव्यू में आपका व्यक्तित्व (personality), सोचने-समझने की शक्ति, निर्णय लेने की क्षमता, समस्या समाधान कौशल (problem solving skills) आदि को परखा जाता है.

BPSC के इंटरव्यू में निम्नलिखित विषय से प्रश्न रहते हैं.

  1. करेंट अफेयर्स से जुड़े प्रश्न
  2. बिहार से संबंधित प्रश्न
  3. ऐच्छिक विषय से जुड़ा प्रश्न
  4. सिचुएशनल / रैंडम क्वेश्चन

इसके अलावा इसमें आपकी शैक्षिक योग्यता, हॉबी, नौकरी, स्ट्रेंथ, वीकनेस आदि से जुड़े प्रश्न भी पूछे जाते है.

UPSC, BPSC सहित किसी भी राज्य स्तरीय सिविल सेवा परीक्षा (State PCS) के इंटरव्यू की तैयारी के लिए महेश चंद्र राही की “साक्षात्कार एवं व्यक्तित्व निर्माण” किताब बहुत उपयोगी है.

इंटरव्यू के लिए जाने से पहले उस दिन का समाचार पत्र जरूर पढ़ लें. फॉर्मल ड्रेस में जाएं. समय से पहले इंटरव्यू सेंटर पर पहुंच जाएं. जितने भी सवालों का जवाब आता हो उसे आत्मविश्वास (confidence) के साथ दें, लेकिन ओवर कॉन्फिडेंट न हो.

BPSC Exam Preparation Tips in hindi

  • बीपीएससी का पाठ्यक्रम हमेशा अपने पास रखें.
  • सिर्फ महत्वपूर्ण किताबें ही पढ़ें और जितना सिलेबस में हो उतना ही अच्छे से पढ़ें.
  • एक अच्छा सा टाइम टेबल बनाकर उसका पालन करते हुए योजनाबद्ध अध्ययन करें.
  • रोजाना समाचार पत्र पढ़ने की आदत बना लें.
  • पढ़ने के साथ-साथ नोट्स भी बनाएं.
  • किसी कोचिंग संस्थान से BPSC का अच्छा सा नोट्स लेकर उसको भी देखें.
  • पढ़े हुए को नियमित रूप से रिवाइज करें.
  • विभिन्न प्रकार के मानचित्रों को समझने के लिए अपने पास एक मानचित्रावली (Atlas) जरूर रखें. BPSC सहित किसी भी सिविल सर्विस एग्जाम के लिए ऑक्सफोर्ड पब्लिकेशंस का “स्टूडेंट एटलस” बहुत उपयोगी है.
  • तैयारी के दौरान उत्तर लिखने (answer writing) का खूब अभ्यास करें.
  • प्रश्न का पैटर्न समझने के लिए पिछले साल के प्रश्न पत्रों को देखें.
  • अपनी तैयारी का आकलन करने के लिए मॉक टेस्ट दें.
  • अगर आप मेंस पास कर चुके है तो मॉक इंटरव्यू भी दें. जिससे आपकी घबराहट (hesitation) दूर होगी.

BPSC Ki Taiyari Kaise Kare – FAQs

BPSC Ki Taiyari Kab Se Kare?

आमतौर पर बीपीएससी परीक्षा की तैयारी करने में 4 से 6 महीने लगते है, तो इस हिसाब से आप ग्रेजुएशन के फाइनल ईयर से इसकी तैयारी कर सकते हैं.

BPSC Ki Taiyari Kaise Shuru Kare?

सबसे पहले बीपीएससी के पाठ्यक्रम और एग्जाम पैटर्न को अच्छी तरह समझें. फिर उसके अनुसार महत्वपूर्ण किताब की व्यवस्था करें. टाइम टेबल बनाकर योजनाबद्ध अध्ययन करें. नोट्स बनाएं. रिवाइज करें. पिछले साल के प्रश्न पत्रों को हल करें, और अंत में अपनी तैयारी का आकलन करने के लिए मॉक टेस्ट दें.

उम्मीद है कि BPSC Ki Taiyari Kaise Kare आपको मालूम हो गया होगा. अगर इससे जुड़ा आपका कोई प्रश्न हैं तो कॉमेंट में जरूर बताएं. जो अभ्यर्थी भी बीपीएससी की तैयारी कर रहे है उन तक ये पोस्ट जरूर शेयर करें.

कृपया इस पोस्ट को शेयर करें!
Subscribe
Notify of
guest

1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Manish roy
Manish roy
5 months ago

Bhut hi achchhi jankari mili, thanku