साइबर सिक्योरिटी में करियर कैसे बनाएं? कोर्स, फीस एवं सैलरी

इंटरनेट अपने साथ बहुत सारी सुविधाएं लाई है, लेकिन इन सुविधाओं के साथ कुछ खतरे भी आएं है. इन्हीं खतरों रोकने और अच्छी सैलरी पाने के लिए बहुत से लोग साइबर सिक्योरिटी में करियर बनाना चाहते है.

Cyber Security एक ट्रेंडिंग करियर विकल्प है. दिन-ब-दिन इसके प्रोफेशनल की डिमांड बढ़ती ही जा रही है. यूएस के ब्यूरो ऑफ लेबर स्टैटिसटिक्स ने 2030 तक साइबर सुरक्षा के पदों में 33% की वृद्धि की भविष्यवाणी की है.

इस पोस्ट में हमलोग साइबर सिक्योरिटी में करियर बनाने के बारे में विस्तार से जानेंगे. जिसके अंतर्गत साइबर सिक्योरिटी कोर्स फीस, टॉप कॉलेज, सैलरी, आदि भी जानेंगे. अंत में Career in Cyber Security से जुड़े कुछ FAQs भी देखेंगे.

साइबर सिक्योरिटी क्या होता है?

साइबर सिक्योरिटी, दुर्भावनापूर्ण हमलों (malicious attacks) से कंप्यूटर, सर्वर, मोबाइल डिवाइस, इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम, नेटवर्क और डेटा बचाव करने की प्रैक्टिस होती है.

और जो लोग मलीशियस अटैक्स से कंप्यूटर, सर्वर, आदि को बचाते हैं. उनको साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट कहा जाता है. 

Career in Cyber Security

तो अगर आपका सवाल है कि साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट कैसे बने? तो भी इस पोस्ट को पूरा पढ़ें. इस पोस्ट के अंत तक आपको साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट बनने की पूरी प्रक्रिया मालूम हो जाएगी.

साइबर सिक्योरिटी में करियर कैसे बनाएं?

साइबर सिक्योरिटी में करियर बनाने के लिए आपके अंदर कुछ स्किल्स होने चाहिए. जिनके बारे में आगे बात करेंगे. अगर वो स्किल्स नहीं है तो उनको अपने अंदर विकसित करें.

फिर कंप्यूटर साइंस या इससे मिलते-जुलते क्षेत्र में बैचलर डिग्री प्राप्त करें. जल्दी नौकरी पाने के लिए आप बैचलर डिग्री के साथ-साथ Cyber Security में सर्टिफिकेट कोर्स भी कर सकते हैं. और अगर इससे जुड़ा प्रोजेक्ट भी कर ले तो आपके रेज्यूमे (resume) में चार चांद लगा देगा. 

बैचलर डिग्री के बाद अगर आप मास्टर्स करना चाहे तो मास्टर्स कर लें. वर्ना बैचलर डिग्री पर भी आपको नौकरी मिल जाएगी. अगर आप किसी अच्छे कॉलेज या संस्थान से साइबर सुरक्षा का कोर्स किए होंगे तो आपका आसानी से कैंपस प्लेसमेंट हो जाएगा, नहीं तो थोड़ा बहुत हाथ पैर मारना होगा.

साइबर सिक्योरिटी में करियर बनाने के लिए टॉप्स स्किल्स (Skills)

आप अगर साइबर सुरक्षा में करियर बनाना चाहते हैं तो आपके अंदर ये स्किल्स होने ही चाहिए. सब स्किल्स का होना जरूरी नहीं है, पर जितना ज्यादा हो उतना अच्छा है.

  • समस्या हल करना (Problem Solving)
  • जल्दी सीखना (Quick Learning)
  • तकनीकी योग्यता (Technical Aptitude)
  • उत्साहशील (Enthusiast)
  • विस्तार पर ध्यान (Attention to Detail)
  • मौलिक साइबर फॉरेंसिक कौशल (Fundamentals Cyber Forensics Skills)
  • हैकिंग की समझ
  • रचनात्मकता (Creativity)

12वीं के बाद साइबर सिक्योरिटी के लिए कौन सा कोर्स बेस्ट है?

12वीं के बाद साइबर सिक्योरिटी के लिए बी टेक इन कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग (साइबर सिक्योरिटी) बेस्ट कोर्स माना जाता है. इसके अलावा भी कई सारे बैचलर डिग्री है जो आप 12वीं के बाद कर सकते हैं. जिनके नाम निम्नलिखित है.

  • बीई इन साइबर सिक्योरिटी 
  • बीएससी इन साइबर सिक्योरिटी 
  • बीटेक सीएसई – नेटवर्किंग एंड साइबर सिक्योरिटी 
  • बीसीए इन क्लाउड एंड सिक्योरिटी 
  • बीसीए इन साइबर सिक्योरिटी 

इन बैचलर डिग्री के अलावा आप 12वीं के बाद डिप्लोमा इन साइबर सिक्योरिटी या इसमें सर्टिफिकेट कोर्स भी कर सकते हैं.

अंडरग्रेजुएट (UG) साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए योग्यता

अंडरग्रेजुएट साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए विद्यार्थियों का 12वीं साइंस (PCM) से न्यूनतम 50% अंक के साथ पास होना आवश्यक है. 

आईटीआई या अन्य अच्छे कॉलेज से बीटेक करने के लिए आपको जेईई मेन (JEE Main), बिटसेट, जी एडवांस जैसी परीक्षा भी पास करना होगा. 

वैसे बीएससी में एडमिशन तो मेरिट के आधार पर ही होता है, लेकिन अगर आप सेंट्रल यूनिवर्सिटी से ये कोर्स करना चाहते हैं तो आपको CUET भी पास करना होगा.

पोस्टग्रेजुएट (PG) साइबर सिक्योरिटी कोर्सेज

प्रमुख पोस्टग्रेजुएट साइबर सिक्योरिटी कोर्स निम्नलिखित हैं.

  • एमएससी इन साइबर सिक्योरिटी
  • एमटेक इन साइबर सिक्योरिटी
  • एमसीए इन साइबर सिक्योरिटी 
  • एमबीए इन साइबर सिक्योरिटी मैनेजमेंट 
  • पीजी इन साइबर सिक्योरिटी

पोस्टग्रेजुएट साइबर सिक्योरिटी कोर्सेज के लिए योग्यता (Eligibility Criteria)

पोस्टग्रेजुएट साइबर सुरक्षा कोर्स के लिए आपका संबंधित क्षेत्र में बैचलर न्यूनतम 50% अंक के साथ पास होना अनिवार्य है.

जैसे अगर आप M.Tech करना चाहते हैं तो ‌आपका बीटेक में कम से कम 50% अंक होना चाहिए. इसी तरह अगर आप M.Sc करना चाहते हैं तो बीएससी में आपका न्यूनतम 50% अंक होना आवश्यक है.

ज्यादातर कॉलेज में मेरिट के आधार पर ही इसके पोस्टग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन होता है, तो वहीं कुछ कॉलेज पीजी कोर्स में एडमिशन के समय GATE, TANCET जैसी प्रवेश परीक्षा के स्कोर भी मांगती है.

आईआईएम या कुछ अन्य अच्छे मैनेजमेंट कॉलेज से साइबर सिक्योरिटी मैनेजमेंट में MBA करने के लिए आपको CAT, MAT जैसी परीक्षा प्रवेश परीक्षा भी देनी होती है.

Cyber Security में यूजी और पीजी कोर्स करने के अलावा आप इसमें पीएचडी भी कर सकते हैं. लेकिन चूंकि ये पोस्ट बीगीनर के लिए लिखा गया है, इसलिए हमने इसमें पीएचडी कोर्स के बारे में नहीं बताया है. अगर आपको जानना है तो कमेंट करें. आपको बता दिया जाएगा.

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए भारत के टॉप कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी

भारत के प्रसिद्ध कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी जो साइबर सुरक्षा कोर्स के विभिन्न यूजी और पीजी कोर्स ऑफर करते हैं, उनकी सूची निम्नलिखित हैं:

  • आईआईटी दिल्ली 
  • बिट्स पिलानी 
  • कालीकट यूनिवर्सिटी 
  • निमास (NIMAS), कोलकाता 
  • नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी 
  • आईआईबीएम इंस्टीट्यूट आफ बिजनेस मैनेजमेंट 
  • ब्रेनवेयर यूनिवर्सिटी
  • हितम (HITAM), हैदराबाद
  • आईसीएएसआर (ICASR), 
  • एसआरएम वलीमाई इंजीनियरिंग कॉलेज, कांचीपुरम 

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए विदेशी यूनिवर्सिटीज

विदेश से साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने की इच्छा रखने वाले विद्यार्थियों के लिए कुछ प्रमुख यूनिवर्सिटी निम्नलिखित है.

  1. टफ्ट्स यूनिवर्सिटी 
  2. इलिनॉइ यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी 
  3. रोचेस्टर इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी 
  4. जॉर्जिया टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी
  5. ब्रिटिश कोलंबिया यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी

हिंदुस्तान से बाहर किसी भी इंग्लिश स्पीकिंग देश में पढ़ाई करने के लिए आपके पास आईएल्ट्स (IELTS), TOEFL, जैसे इंग्लिश टेस्ट में अच्छा स्कोर होना अति आवश्यक है.

कॉलेज और यूनिवर्सिटीज के अलावा आप ऑनलाइन भी साइबर सिक्योरिटी कोर्स कर सकते हैं.

Udemy, Swayam, Simplilearn, आदि कुछ प्रमुख प्लेटफॉर्म है जो साइबर सिक्योरिटी के विभिन्न ऑनलाइन कोर्स ऑफर करती है. 

इसके अलावा साइबर सिक्योरिटी के बारे में अधिक जानने के लिए आप Jon Erickson की Hacking: The Art of Exploitation किताब पढ़ सकते हैं. 

इस किताब में नई हैकिंग टेक्निक्स, प्रोग्रामिंग, नेटवर्क कम्युनिकेशन, आदि के बारे में बहुत अच्छे से बताया गया है.

साइबर सिक्योरिटी कोर्स फीस 

इसके कोर्स की फीस अलग-अलग कॉलेजों के लिए अलग-अलग होती है. वहीं ऑनलाइन इसके कई कोर्स बहुत सस्ते या मुफ्त में भी मिल जाते हैं.

सर्टिफिकेट, यूजी और पीजी साइबर सिक्योरिटी कोर्स की औसत फीस नीचे की तालिका (table) में दी जा रही है. 

कोर्स का प्रकारकुल फीस (₹)
सर्टिफिकेट4,000 – 12,000
अंडर ग्रेजुएट1.5 लाख – 2.5 लाख
पोस्ट ग्रेजुएट 1.25 लाख – 2.45 लाख
Cyber Security Course Fees

जॉब प्रोफाइल साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के बाद 

Cyber Security कोर्स करने के बाद निम्नलिखित में से कोई एक जॉब प्रोफाइल आपकी हो सकती हैं:

  • साइबर सिक्योरिटी स्पेशलिस्ट 
  • साइबर सिक्योरिटी एनालिस्ट 
  • साइबर सिक्योरिटी कंसलटेंट 
  • पेनिट्रेशन टेस्टर 
  • साइबर सिक्योरिटी मैनेजर 
  • चीफ इंफॉर्मेशन ऑफिसर (CIO) 
  • नेटवर्क सिक्योरिटी इंजीनियर 
  • सिक्योरिटी आर्किटेक्ट 
  • एथिकल हैकर 
  • चीफ इंफॉर्मेशन सिक्योरिटी ऑफिसर (CISO)
Career in Cyber Security

साइबर सिक्योरिटी सैलेरी

इसकी सैलरी कितनी होगी यह मुख्यता तीन चीजों पर निर्भर करती है: 

  1. जॉब प्रोफाइल
  2. कंपनी
  3. देश

कुछ प्रमुख जॉब प्रोफाइल पर मिलने वाली औसत सैलरी का विवरण नीचे की तालिका में दिया जा रहा है: 

जॉब प्रोफाइलऔसत सैलरी (वार्षिक)
पेनिट्रेशन टेस्टर₹ 7 लाख
साइबर सिक्योरिटी एनालिस्ट₹ 10 लाख
CIO₹ 45.3 लाख
साइबर सिक्योरिटी कंसलटेंट₹ 6.5 लाख
सिक्योरिटी आर्किटेक्ट₹ 17 लाख
एथिकल हैकर₹ 9 लाख
नेटवर्क सिक्योरिटी इंजीनियर₹ 6 लाख
CISO₹ 35.5 लाख
साइबर सिक्योरिटी स्पेशलिस्ट₹ 11.3 लाख
साइबर सिक्योरिटी मैनेजर₹ 24.3 लाख
Cyber Security Salary

बहुत कुछ जान लिए साइबर सुरक्षा में करियर बनाने के बारे में आइए अब इससे जुड़े कुछ प्रश्न व उनके उत्तर जान लेते हैं.

Career in Cyber Security – FAQs

साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट कैसे बनें?

साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट बनने के लिए आपको 12वीं के बाद साइबर सिक्योरिटी में बैचलर डिग्री (जैसे B.Tech, B.Sc, आदि) करना होगा. 

उसके बाद अगर आप इसमें मास्टर्स करना चाहते हैं तो कर लें, वर्ना बैचलर डिग्री के बाद भी आपको साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट की नौकरी मिल सकती हैं.

साइबर सिक्योरिटी की जरूरत कहां – कहां और क्यों होती हैं?

साइबर सिक्योरिटी की सबसे ज्यादा जरूरत बैंकिंग सेक्टर में होती है, क्योंकि वहां बहुत सारा पैसा और डेटा मौजूद होता है, और साइबर अपराधी को ये दोनों बहुत पसंद है.

इसके अलावा विभिन्न सरकारी संस्थाएं, बड़ी-बड़ी कंपनीज, आदि भी अपने सिस्टम पर अटैक होने और सीक्रेट इनफॉर्मेशन लीक होने से बचाने के लिए साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट को हायर करती है.

उम्मीद है कि आपको ये पोस्ट साइबर सिक्योरिटी में करियर कैसे बनाएं? उपयोगी लगा होगा. अगर इससे जुड़ा आपका कोई प्रश्न है तो कॉमेंट में जरूर पूछें एवं इस पोस्ट को उन लोगों तक शेयर करें जो अपना करियर साइबर सिक्योरिटी में बनाना चाहते हैं.

कृपया इस पोस्ट को शेयर करें!
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments