Career kaise chune? 7 आसान तरीके करियर चुनने के

आपने तो बचपन मे ये सवाल तो सुना ही होगा कि ‘तो बताओ बेटा बड़े होकर क्या बनना है?’ लेकिन उस वक्त तो बच्चे को ये भी पता नहीं होता कि अपना Career Kaise Chune? बचपन के इस सवाल का शायद आपने जवाब भी दिया हो। ये सवाल कभी माता-पिता या अभिभावक, कभी पड़ोसी या रिश्तेदार तो कभी स्कूल के शिक्षक पूछते थे।

जब हम लोग स्कूल में पढ़ते थे तो कई बार हमें इस विषय पर निबंध लिखने को भी कहा जाता था कि ‘आपके जीवन का लक्ष्य क्या है?’ और उस समय हम मे से ज्यादातर लोगों को पता भी नही होता था कि हमारे जीवन का लक्ष्य क्या है? मुझे तो नही पता था शायद आपको पता रहा हो। अगर ऐसा है तो निचे कमेंट में जरूर बताएं।

अपना लक्ष्य नहीं मालूम होने के बावजूद भी हमलोग कोई अच्छा सा टॉपिक चुनकर उसी पर निबंध लिख देते थे जैसे किसी ने लिख दिया कि ‘मै डॉक्टर बनकर गरीबों का मुफ्त इलाज करूंगा’ तो कोई लिखता था किसी ‘मै सेना में भर्ती होकर देश की सेवा करूंगा’ आदि। क्या उस समय (बचपन में) आप के दिमाग में कभी ये प्रश्न आया कि हम अपना career kaise chune?

आमतौर पर 10वी में या 10वी के बाद हमलोग इस बारे में थोड़ा गंभीर होते है कि अपना career kya chune और अपना career kaise chune? क्योकी 10वी तक तो सभी की पढ़ाई लगभग सामान्य होती हैं।

तो आइए विद्यार्थी जीवन के सबसे महत्वपूर्ण सवाल और विद्यार्थी की एक बड़ी उलझन (confusion) के अपना करियर कैसे चुनें? का हल जानने का प्रयास करते है

अपना करियर चुनते समय इन 7 बातों का अवश्य ध्यान रखें

Career kaise chune
Compass

1. ये पता करें कि आप किस चीज मे अच्छे है और स्वाभाविक रूप से क्या करना पसंद करते हैं

लगभग सभी विद्यार्थी किसी न किसी एक विषय में बहुत ही अच्छे होते है जिसे वह अपना फेवरेट (favourite) विषय भी कहते है। तो अगर विद्यार्थी अपने फेवरेट विषय से जुड़े हुए क्षेत्र में अपना करियर बनाएँगे तो वो अपने काम को आनंद लेकर करेंगे और ज्यादा अच्छे से करेंगे।

जैसे आप एक BBA के विद्यार्थी है और आप का फेवरेट विषय अकाउंट हैं यानी आपको अकाउंटिंग करने में बहुत मजा आता है तो आप इस क्षेत्र में अपना करियर बना सकते है आप अकाउंटेंट बन सकते हैं।

ये तो हुई किताबी बात पर अगर आपको विषय से हटकर कर कुछ और करना ज्यादा अच्छा लगता है। जैसे, आप को नए-नए लोगों से मिलना और नई-नई भाषा सीखना ज्यादा पसंद हैं तो आप ट्रैवल एजेंट बन सकते है।

2. अपनी आकांक्षाओं (aspirations) को जानने का प्रयास करें

अगर आप की आकांक्षा है के मै अमीर बनना चाहता हूं तो ऐसा करियर चुनें जिससे आप ज्यादा पैसा कमा कर अमीर बन सकते है। जैसे, विज्ञान, प्रौद्योगिकी (technology), फाइनेंस, चिकित्सा (medicine) आदि।

वैसे करियर से बचे जिसमे रिस्क ज्यादा हो और सिर्फ कुछ ही लोग उसमें कामयाब हो पाते हो जैसे फिल्म मेकिंग, फैशन डिज़ाइन, संगीत, ड्रामा आदि।

इसी तरह अगर आप चाहते हैं कि बॉस फ्री जिंदगी हो यानी अपने बॉस खुद हो तो आप एंटरप्रेन्योर (entrepreneur) बन कर खुद का बिजनेस कर सकते है, अगर आपकी कोई फैमिली बिज़नेस है तो आप उसको बढ़ा सकते है या ऑनलाइन काम जैसे ब्लॉगिंग (Blogging), यूट्यूब, डिजिटल मार्केटिंग, आदि में अपना करियर बना सकते है।

3. उन करियर का पता लगाएँ जिनकी मांग (demand) हो

हम लोग अभी 21वी शताब्दी में जी रहे हैं। ये सदी है ; इंटरनेट का, डिजिटल टेक्नोलॉजी का, ऑटोमेशन का। इन सब क्षेत्रो में बहुत सारे करियर विकल्प उपलब्ध है जिसमें अपना करियर बना सकते है। लेकिन याद रहें के किसी एक क्षेत्र में ही करियर बनाएं सभी क्षेत्र में जाने का प्रयास न करें।

ये भी पढ़े > Trending Careers in India | भविष्य में भी रहेगी इसकी मांग।

ट्रेंडिंग करियर में से कोई एक करियर चुनना आपके लिए काफी लाभदायक हो सकता है। क्योंकि ट्रेंडिंग करियर का वर्तमान में बहुत मांग रहता है और भविष्य में भी रहने की संभावना रहती है।

4. इंटरनेट पर करियर के नए-नए विकल्प जानने का प्रयास करें

इंटरनेट पर हमेशा नए-नए करियर विकल्प आते रहते हैं बस जरूरत है आपको उस ओर ध्यान देने की क्योंकि कई बार होता ये है कि हमें सिर्फ़ सीमित करियर विकल्प के बारे में पता होता है। जैसे डॉक्टर, इंजीनियर, मैनेजर आदि और हम उसी आधार पर अपना फैसला लेते हैं। पर जब इंटरनेट पर सर्च करेंगे तो पाएंगे के एक ही क्षेत्र में कई सारे करियर विकल्प मौजूद है हो सकता है उसमें से कुछ आपको पसंद भी आ जाए।

आप इंटरनेट से ये भी जान सकते है कि आप जो बनना चाहते है वो बनने के बाद आप पर कौन-कौन सी जिम्मेदारियां आएगी, आपको कौन-कौन सा काम करना होगा, वो बनने के लिए कौन सा कोर्स करना होगा, उस काम में कौन-कौन सी स्किल्स (सॉफ्ट स्किल और हार्ड स्किल) की जरूरत पड़ेगी, आदि।


अगर आप 12वीं साइंस, आर्ट्स तथा कॉमर्स के बाद किए जाने वाले विभिन्न प्रकार के (बैचलर, डिप्लोमा, पैरामेडिकल, एवं कंप्यूटर) कोर्स, सरकारी परीक्षा एवं नौकरी के बारे में विस्तार से जानना चाहते है. तो आप हमारा eBook खरीद सकते है.

इस ईबुक में 12वीं के तीनों स्ट्रीम के बाद किए जाने वाले कोर्स और सरकारी नौकरियों के बारे में विस्तार से बताया गया है. इस इबूक के बारे में विस्तार से पढ़ें (learn more)…


इसके अलावा आप जिस क्षेत्र में करियर बनाना चाहते है उसके बारे में विस्तृत रूप से जान पाएंगे जैसे कि इसमें सैलरी कितनी मिलती है, इसकी पात्रता (eligibility criteria) क्या है, आपकी कौन-कौन सी जॉब प्रोफाइल हो सकती है, आदि।

5. करियर गाइडेंस की किताब पढ़ें

इंटरनेट पर आपको बहुत सारा ज्ञान मिल जाएगा, इसमें कोई शक नहीं है. पर इंटरनेट पर कुछ कंटेंट भ्रामक होते हैं तो वहीं कुछ कंटेंट अधूरे भी होते हैं, और कई बार ऐसे कंटेंट को पहचान पाना भी मुश्किल होता है.

ऑनलाइन जितने भी कंटेंट लिखें जाते हैं, वह ज्यादातर वैसे कंटेंट रायटर द्वारा लिखा जाता है जो उस क्षेत्र के माहिर नहीं होते हैं यानी उसको उस क्षेत्र का ज्यादा ज्ञान नहीं होता है और नहीं कोई तजुर्बा. वो सिर्फ़ विभिन्न स्रोतों से जानकारी लेकर उसे अपने शब्दों में लिख देते हैं. ये भी बुरा नहीं होता है, आपको अगर सिर्फ संक्षिप्त जानकारी चाहिए तो ये एक अच्छा स्रोत है. लेकिन आप अगर किसी चीज के प्रति गंभीर है, उसकी विस्तार से जानकारी चाहते हैं, लेखक का अनुभव और राय जानना चाहते हैं तो फिर आप उस क्षेत्र की किताब पढ़े.

ये भी पढ़ें > विद्यार्थियों के लिए 10 बेहद उपयोगी पुस्तक

करियर गाइडेंस की एक बहुत ही अच्छी किताब है “Steps to Career : A Parent/Student Guide”. इसमें विस्तार से करियर से जुड़ी विभिन्न जानकारी दी गई है, करियर से जुड़े उलझन को दूर किया गया है और साथ ही साथ कई सारे अपरंपरागत (unconventional) करियर विकल्प भी बताएं गए हैं. ये किताब amazon पर उपलब्ध है. इस किताब के दोनों फार्मेट (पेपरबैक और ईबुक) की एफीलिएट लिंक नीचे दी गई है, वहाँ से आप खरीद सकते हैं.

Paperback (हार्ड कॉपी) ⬇️

Kindle Edition (Ebook) ⬇️

यह पुस्तक श्रीमती सीजी थॉमस द्वारा लिखा गया है. लेखिका मुंबई यूनिवर्सिटी से स्नातक की हुई है और अभी कॉर्पोरेट ऑफिस में काम कर रही है. इससे पहले ये कई नॉवेल भी लिख चुकी है.

ये किताब अंग्रेजी भाषा में है, मुझे हिंदी में ‘करियर मार्गदर्शन’ की कोई किताब नहीं मिली. आपको अगर हिंदी भाषा में कोई ‘करियर मार्गदर्शन’ की किताब के बारे में पता हो तो कमेंट में जरूर बताएं.

6. अपने शिक्षकों से सलाह लें

अपने माता-पिता से, अभिभावक से, शिक्षकों से और दोस्तों से सलाह लें। अगर आप के मन में कोई करियर आइडिया, करियर से जुड़ा हुआ कोई प्रश्न हैं या करियर को लेकर कोई उलझन है (confusion) है। तो इन सभी लोगों के साथ साझा करें हो सकता है कि ये लोग आपकी उलझन की ‘career kaise chune’ को दूर कर दे और कोई अच्छा करियर विकल्प बता दे।

Boy with father_ career Kaise Chune
Boy with Father

इसके अलावा आप उन लोगों से मिलिए जो उस क्षेत्र में है जिस क्षेत्र में आप करियर बनाना चाहते है। उसे अपनी क्वालिफिकेशन, पर्सनालिटी, और रूचि बताएं और उससे जानने का प्रयास करें की क्या आपके लिए ये करियर उचित हैं। इससे आपको अपने करियर विकल्प के बारे में स्पष्टता होगी।

7. Career Assessment Test दें

इसमें आपका Psychometric analysis और Behavioural analysis होता है। आपका Attitude और Aptitude जाना जाता है।

मनोवैज्ञानिक (psychologist) कई सारे सवाल बनाते हैं जिसका उत्तर देने पर आपके बारे में पूरा परिणाम आ जाता है कि आपका झुकाव (inclination) किस तरफ है, आपकी रूचि (interest) किस चीज में है, आपका रवैया (attitude) कैसा है।

ये आपको ये भी बताएंगे कि आपके व्यक्तित्व (personality) के हिसाब से आपके लिए कौन सा करियर उपयुक्त होगा। आपके उलझन Career Kaise Chune? का ये एक टेक्निकल सॉल्यूशन है।

अगर आप अपना करियर असेसमेंट टेस्ट देना चाहते है तो इंटरनेट पर आप को कई तरह के टेस्ट मिल जाएंगे। जैसे Career Guide का Ideal Career Test, Stoodnt का Career Guidance Test आदि। इसकी कीमत लगभग 1,000 से 35,000 तक होती है।

निष्कर्ष (conclusion)

करियर चुनना किसी भी विद्यार्थी का बहुत ही अहम फैसला होता है। इसलिए ये फैसला बहुत ही सोच समझ कर लें। क्योंकि पढ़ाई के बाद अगले 40-45 साल तक आपको वह काम करना। अगर वह काम आपको पसंद नही रहा तो आप जिंदगी भर अपने आप को कोसते रहेंगे के ‘मैं कहां फंस गया’, ‘ये कैसा करियर चुन लिया’।


अगर आप 12वीं साइंस, आर्ट्स तथा कॉमर्स के बाद किए जाने वाले विभिन्न प्रकार के (बैचलर, डिप्लोमा, पैरामेडिकल, एवं कंप्यूटर) कोर्स, सरकारी परीक्षा एवं नौकरी के बारे में विस्तार से जानना चाहते है. तो आप हमारा eBook खरीद सकते है.

इस ईबुक में 12वीं के तीनों स्ट्रीम के बाद किए जाने वाले कोर्स और सरकारी नौकरियों के बारे में विस्तार से बताया गया है.


इस ब्लॉग पोस्ट में आपको करियर चुनने के छः तरीक़े बताए गए हैं। आप अपने लिए देखें कि आपके लिए कौनसा तरीक़ा काम करता है। अगर आप करियर को लेकर अधिक गंभीर है तो करियर असेसमेंट टेस्ट दें। इससे आपकी किस विषय में रूचि हैं वह पता चल जाएगा।

ज्यादातर लोग करियर चुनते समय सबसे बड़ी गलती क्या करते हैं?

वो भेड़ चाल का शिकार हो जाते है. यानी वो खुद की इच्छा, क्षमता, पर्सनेलिटी आदि पर ज्यादा ध्यान नहीं देते है और न उनके अनुसार अपना करियर चुनते है. बल्कि उनके रिश्तेदार या उनके आस-पास के लोग जिधर जाते है वो भी उधर ही चल पड़ते है.

सबसे ज्यादा सैलरी वाले करियर कौन-कौन से हैं?

सबसे ज्यादा सैलरी वाले करियर चिकित्सा (medical) के क्षेत्र में है. जैसे हृदय रोग विशेषज्ञ, निश्चेतन विशेषज्ञ (anesthesiologist), ऑर्थोडॉन्टिस्ट, मनोचिकित्सक, आदि. इनकी सैलरी बहुत ज्यादा होती है.

उम्मीद है कि आपको अपने सवाल career kaise chune का उत्तर मिल गया होगा। तो आप अपना करियर चुनने के लिए कौन सा तरीक़ा पसंद करेंगे?


कृपया इस पोस्ट को शेयर करें!
Subscribe
Notify of
guest

5 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Ankita niranjan choudhari
Ankita niranjan choudhari
1 year ago

Career chune m bahut confusion

harsh
5 months ago

TAHNK YOU SO MUCH

कपिल कुमार
कपिल कुमार
2 months ago

सर कुछ पूछना था आपसे