Freelancing Kya Hota Hai? फ्रीलांसिंग से पैसे कमाने की प्रक्रिया

बहुत से लोगों को नौकरी नहीं मिल रही है। ऐसे में कई लोग फ्रीलांसिंग (freelancing) करने के इक्षुक है। वो जानना चाहते है कि , freelancing kya hota hai ? वो freelancer kaise bane ? तो इस पोस्ट में फ्रीलांसिंग के बारे में ही विस्तार से जानेंगे।

बेरोजगारी बहुत बढ़ रही है। सरकारी नौकरी पाने के लिए बहुत पापड़ बेलना पड़ता है। प्राइवेट जॉब अगर मिल भी जाए तो वहां जॉब सिक्योरिटी (job security) नही रहती है। कभी भी आपकी एक छोटी सी गलती से आप की जॉब जा सकती है।

इन सब चीजों को देखते हुए कई लोग अपना खुद का बिजनेस करते है या फिर ऑनलाइन कमाई का कोई तरीका अपनाते है। बिजनेस करने में रिस्क होता है और पैसे भी लगते है। इसलिए बिजनेस करना सबके बस की बात नहीं है।

ऑनलाइन कमाने का ट्रेंड बहुत बढ़ रहा है। कई लोग सिर्फ ऑनलाइन कमाई से ही अपना जीवन यापन करते है। ऑनलाइन कमाने के कई सारे तरीके है जिसमें से Freelancing एक बहुत ही अच्छा तरीका है। तो इस ब्लॉग पोस्ट में हम जानेंगे कि freelancing kya hota hai? आप फ्रीलांसर कैसे बन सकते है? और फ्रीलांसिंग के क्या – क्या फायदे है।

Freelancing Kya Hota Hai

फ्रीलांसिंग एक कॉन्ट्रैक्ट – बेस्ड (contract – based) व्यवसाय है जहां व्यक्ति सिर्फ किसी एक संस्थान में काम नहीं करते बल्कि अपनी सेवा कई सारे क्लाइंट्स (clients) को देते है।

फ्रीलांसिंग करने वालों को Freelancer (फ्रीलांसर) कहते है।

freelancer kya hota hai

फ्रीलांसिंग को एक उदाहरण की मदद से समझने का प्रयास करते है। के कोई एक यूट्यूबर (YouTuber) है वह अपना विडियो बनाता है पर उसके पास इतना समय नहीं है कि वह अपने वीडियो को एडिट कर सकें या फिर उसे वीडियो एडिटिंग नही आती हैं। तो फिर वह ऐसे व्यक्ति को ढूंढेगा के जो उसकी वीडियो की एडिटिंग कर सकें। उसकी इतनी बजट नहीं है कि वो किसी फुल टाइम वीडियो एडिटर को हायर कर सकें या फिर उसके पास उतना काम ही नहीं है कि फुल टाइम वीडियो एडिटर को हायर करने की जरूरत पड़े।

दूसरी तरफ आपको वीडियो एडिटिंग आती है। आप दोनों का किसी freelancing website (जिसे इसी ब्लॉग पोस्ट में आगे जानेंगे) या किसी और माध्यम से संपर्क हुआ। आपको उसने वीडियो एडिटिंग करने का प्रोजेक्ट दिया आपने उसे तय समय में पूरा किया जिसके बदले आपको पैसे मिले।

इस काम को ही फ्रीलांसिंग कहते हैं और इस उदाहरण में आप एक फ्रीलांसर थे। उम्मीद है कि इस उदाहरण से आपको अच्छे से समझ में आ गया होगा कि फ्रीलांसिंग क्या होता है

अगर आप freelancing का हिंदी अर्थ (Freelancing meaning in hindi) जानना चाहते है तो आपको बता दें freelancing का हिंदी अर्थ ‘स्वतंत्र’ होता है.

फ्रीलांसिंग के लिए आपके पास एक लैपटॉप या कंप्यूटर, आपके काम से जुड़ी जरूरी सॉफ्टवेयर और अच्छी नेटवर्क कनेक्शन होनी चाहिए।

आपके पास अगर लैपटॉप या कंप्यूटर नहीं है तो आप स्मार्टफोन से भी कुछ फ्रीलांसिंग का काम कर सकते है। जैसे कॉन्टेंट राइटिंग, वीडियो एडिटिंग आदि। स्मार्टफोन से फ्रीलांसिंग करना थोड़ा मुश्किल होगा और समय भी ज्यादा लगेगा।

Freelancer Kaise Bane

फ्रीलांसिंग क्या है ? ये हमलोग ऊपर समझ चुके है। अब हम जानेंगे कि freelancer कैसे बने। इसमें हम आपको तीन (3) स्टेप्स बताएंगे जिसे आप फॉलो करके एक अच्छे फ्रीलांसर बन सकते है।

1. एक अच्छा सा स्किल सीखें

जैसा कि हमने ऊपर ‘ फ्रीलांसिंग क्या होता है?’ में जाना कि इसमें फ्रीलांसर अपने स्किल से अपने क्लाइंट का काम करते है। आपके पास अगर कोई स्किल है तो बहुत अच्छी बात है अगर नही है तो ऐसी कोई स्किल सीखें जिसका मार्केट में डिमांड हो और उसके लिए आपको अच्छा खासा पैसा मिल सकें।

यहां हम आपको फ्रीलांसिंग के लिए कुछ टॉप स्किल बता रहे है जिसका मार्केट में बहुत डिमांड है और इसके आपको अच्छे खासे पैसे भी मिलेंगे।

Top Freelance Skills

  • Writing
  • Tutoring
  • Translation
  • Video Editing
  • Graphic Design
  • Website Design
  • Virtual Assistant
  • Social Media Marketing
  • Mobile App Development
  • Search Engine Optimization (SEO)

ये भी पढ़ें > 15 प्रमुख जॉब ओरिएंटेड कंप्यूटर कोर्स

2. Freelancing के लिए प्लेटफॉर्म चुने

अब आप फ्रीलांसिंग के लिए स्किल सीख चुके हैं। लेकिन सवाल ये आता है कि आपको फ्रीलांसिंग के लिए काम कहां से मिलेगा ?

आपको काम कई तरीके से मिल सकते है जैसे आपके कोई रिलेटिव ने कोई काम दे दिया या आप खुद किसी कंपनी के वेबसाइट पर जाकर ‘ we are hiring ‘ के ऑप्शन पर क्लिक कर देख सकते है कि क्या वे फ्रीलांसर को हायर कर रहे है और जिस स्किल कि उसमें जरूरत है क्या वो स्किल आपके पास है अगर हां तो आप उससे संपर्क कर सकते हैं।

फ्रीलांसिंग के काम ढूंढने के लिए सबसे अच्छा प्लेटफॉर्म है सी ‘ फ्रीलांस वेबसाइट ‘। इन वेबसाइटों पर आपको लगभग सभी स्किल से जुड़ा हुआ काम मिल जाएगा।

यहां हम आपको फ्रीलांसिंग के लिए कुछ टॉप वेबसाइट बता रहे हैं जहां आप रजिस्टर होकर आसानी से काम ढूंढ सकते हैं।

Best Freelance Website

  • Fiverr
  • Upwork
  • Guru
  • Freelancer
  • TaskRabbit
  • Truelancer
  • PeoplePerHour
  • Freelance India
  • Simply Hired
  • Writer Access

3. अपना Portfolio बनाएं

फ्रीलांसिंग में आप काम देने वाले (क्लाइंट) से अंजान रहते है और क्लाइंट आपसे। तो ऐसे में क्लाइंट कैसे विश्वास करेगा कि आप जिस काम के लिए अप्लाई कर रहे है वो आपको आती भी है या नहीं। आप उसका काम अच्छे से कर पाएंगे या नहीं। ये समस्या आप अपना पोर्टफोलियो / वेबसाइट बना कर दूर कर सकते है।

एक उदाहरण की मदद से इसे समझने का प्रयास करते है। माना कि आपको कॉन्टेंट राइटिंग (content writing) आती है और आप कॉन्टेंट राइटिंग में फ्रीलांसिंग करना चाहते है। तो आप अपना एक ब्लॉग बना सकते है जहां आप जिस विषय में फ्रीलांसिंग करना चाहते है उससे जुड़ी हुई कुछ आर्टिकल (ब्लॉग पोस्ट) पब्लिश कर सकते हैं। इससे जब भी कोई क्लाइंट आपसे कहेगा कि अपना काम दिखाओ तो उसे आप अपने ब्लॉग का लिंक दे दें।

ये भी पढ़ें > Blogging kaise kare? विद्यार्थियों के लिए इसके फायदे।

इस उदाहरण से आपको समझ आ गया होगा कि पोर्टफोलियो कि फ्रीलांसिंग में क्या भूमिका है

इसकी बाद की प्रक्रिया अलग – अलग फ्रीलांस वेबसाइट पर अलग – अलग हो सकती है। लेकिन मुख्यत: यही होता है कि वहां बहुत सारा काम मौजूद होता है उसमें आपको जो काम आता है उसके लिए आप बीड (bid) करें। क्लाइंट को जिसका काम (portfolio) और दाम पसंद आएगा उसे काम दे देंगे।

आपको शुरुआत में हो सकता है कि कुछ दिनों तक काम न मिले क्योंकि आप वहां पर नए होते है, आपके पास कोई अनुभव नहीं होता है इसलिए क्लाइंट आप को काम देने से कतराएंगे।

फ्रीलांस वेबसाइट पर अपने पोर्टफोलियो को मजबूत बनाने के लिए आप शुरुआत में कुछ काम फ्री या बहुत ही कम दामों में कर सकते है और अपने क्लाइंट से कह सकते है कि वह आपको अच्छी रेटिंग और रिव्यू (review) दें। इससे जब आप बाद में किसी काम के लिए अप्लाई करेंगे तो अच्छी रेटिंग और रिव्यू से आपको काम मिलने में आसानी होगी।

फ्रीलांसिंग में आपको विदेश से भी काम मिलता है और वो पैसे भी अच्छे देते है। विदेश से पेमेंट लेने के लिए PayPal बहुत ही अच्छा रहेगा। ज्यादातर फ्रीलांसर अपनी पेमेंट PayPal के जरिए ही लेते हैं। इसलिए फ्रीलांसिंग करने से पहले यह सुनिश्चित करें कि आपके पास PayPal अकाउंट हो।

कई लोग पूछते है कि अब Freelancer kya hota hai? है तो भई जो फ्रीलांसिंग करते हैं उसे ही Freelancer कहते हैं. इसके अलावा freelancer के नाम से एक फ्रीलांसिंग प्लेटफार्म भी है.

Freelancer कैसे बने? ये सवाल अब नहीं रहा। हमने ऊपर आपको फ्रीलांसर बनने के तीन बेसिक स्टेप्स बता चुके है, जिसे अपना कर आप एक अच्छे फ्रीलांसर बन सकते है।

Freelancing के फायदे

हम लोग ऊपर जान चूके है कि freelancing kya hota hai? फ्रीलांसर कैसे बने यानी कि आप एक अच्छे फ्रीलांसर कैसे बन सकते है। अब हम जानेंगे कि आप अगर फ्रीलांसर बनते है तो फ्रीलांसिंग के क्या – क्या फायदे है।

फ्रीलांसिंग के तो कई सारे फायदे है। यहां हम आपको तीन (3) मुख्य फायदा बता रहे है।

1. अपने घर से काम कर सकते है

ये एक ऑनलाइन काम है तो इसमें आपको ऑफिस जाने की जरूरत नहीं है। आप फ्रीलांसिंग कहीं से भी कर सकते है। चाहे वह आपका घर हो या आपका हॉस्टल हो। बस आप ये सुनिश्चित करें कि चाहे आप जहां से भी काम कर रहे हो वहां इंटरनेट कनेक्शन अच्छा हो ताकि आपको काम करने के दौरान कोई दिक्कत न हो।

2. पढ़ाई के साथ कर सकते है

आप अगर एक विद्यार्थी है और आपको पैसे की समस्या है तो आप फ्रीलांसिंग कर अपने पैसे की समस्या को दूर कर सकते है। आपको अगर पैसे की समस्या न भी हो फिर भी आप फ्रीलांसिंग करके अपने स्किल को इंप्रूव कर सकते है।

इसमें ऑफिस की तरह काम करने का कोई निश्चित समय बांधा नहीं रहता है बल्कि ये आपके ऊपर है कि आप कितना काम करते है। आपको उसी हिसाब से पैसे मिलेंगे।

freelancing kya hota hai

पढ़ाई के साथ फ्रीलांसिंग करने पर ध्यान रहे कि आपकी पढ़ाई ज्यादा प्रभावित न हो। इसके लिए आप रूटीन (routine) बना सकते हैं और कुछ समय ही फ्रीलांसिंग को दें जैसे दिन के 2 – 3 घंटे।

3. बॉस फ्री जीवन

ये एक सेल्फ एंप्लॉयड (self employed) काम है। इसमें कोई आपका बॉस (boss) नही होता है। आप अपने बॉस खुद होते है। इसमें आप बॉस की डांट और कलीग (colleague) के साजिशों से बचे रहते है।

आप जब चाहें, जहां चाहें और जैसे चाहे काम पूरा कर सकते है बस आपके क्लाइंट का तय समय में काम पूरा होना चाहिए। फ्रीलांसिंग करके आप बॉस फ्री जीवन जी सकते है।

ये भी पढ़ें > महिलाओं के लिए घर बैठे 22 बेहतरीन जॉब

Freelancing Kya Hota Hai – निष्कर्ष

फ्रीलांसिंग, विद्यार्थियों के लिए अपने हुनर (skill) को निखारने का और पैसा कमाने का बहुत ही अच्छा जरिया है। फ्रीलांसिंग के जरिए आप अपने घर बैठे विदेश तक के क्लाइंट का काम कर सकते है।

फ्रीलांसर बनना बहुत ज्यादा मुश्किल नहीं है बस आप कुछ स्टेप्स को फॉलो कर आसानी से फ्रीलांसर बन सकते हैं जैसे कोई स्किल सीखें जिसका मार्केट डिमांड हो, अपने आपको फ्रीलांस वेबसाइट पर रजिस्टर करें और अपना पोर्टफोलियो बनाए।

फ्रीलांसिंग आप पढ़ाई के साथ भी कर सकते है। इसके लिए आप अपने पूरी दिनचर्या में से 2 – 3 घंटे इसे दे सकते है।

उम्मीद है कि ये ब्लॉग पोस्ट आपको पसंद आया होगा। इसमें आपने जाना freelancing kya hota hai? आप फ्रीलांसर कैसे बन सकते है? और आप अगर फ्रीलांसर बनते हैं तो आपको फ्रीलांसिंग के क्या – क्या फायदे होंगे। आपको अगर इसके अलावा और भी कोई फायदा पता है तो कमेंट में जरूर बताएं और इस ब्लॉग पोस्ट को दूसरो तक शेयर जरूर करें।

आप अगर अभी तक हमारे इस ब्लॉग के न्यूजलेटर (newsletter) को सब्सक्राइब (subscribe) नही किए है तो अभी जरूर कर लें। यहां आपको विद्यार्थी से जुड़ी विभिन्न जानकारी नियमित रूप से मिलती रहेगी।

Freelancing Kya Hota Hai – FAQs

क्या कम पढ़े लोग फ्रीलांसर बन सकते है और कैसे?

हां, ये कोई नौकरी नहीं है जहां आपकी डिग्री देखी जाएगी. बल्कि ये फ्रीलांसिंग है यहां सिर्फ आपका काम (हुनर) देखा जाता है. इसलिए अगर आपके पास कोई हुनर (skill) है तो आप फ्रीलांसर बन सकते है. इसके लिए ज्यादा पढ़ा लिखा होने की अनिवार्यता नहीं है.

Freelancer.com पर अकाउंट वेरीफिकेशन क्यों नहीं हो रहा है?

शायद आप उनके सभी स्टेप को पूरा नहीं किए होंगे. Freelancer.com पर अकाउंट वेरीफिकेशन के लिए आपको ये 3 स्टेप पूरा करना होता है:

1. पहले अपनी पहचान के लिए सरकार द्वारा जारी आईडी सबमिट करना होता है. 

2. फिर keycode verification के लिए आपको एक हाथ में यूनिक कोड (जो आप इसके वेरिफिकेशन सेंटर पेज से प्राप्त कर सकते है) तथा दूसरे हाथ में अपनी आईडी लेकर अपनी फोटो अपलोड करें.

3. अपने पता का सत्यापन के लिए दस्तावेज या आईडी सबमिट करें.

आपके द्वारा जमा किए गए दस्तावेज को रिव्यू करने में 2 से 3 दिन लग सकते है. 

इन सब स्टेप को फॉलो करने के बाद भी अगर आपका Freelancer.com पर अकाउंट वेरीफिकेशन नही हो पा रहा है तो आप इसके सपोर्ट टीम से संपर्क कर सकते है.

स्वतंत्र फ्रीलांसर पत्रकार कौन होते हैं?

स्वतंत्र फ्रीलांसर पत्रकार वो होते है जो किसी एक समाचार पत्र या चैनल के लिए काम नहीं करते बल्कि वे कई सारे मीडिया संस्था के लिए काम करके पैसा कमाते है. 

विद्यार्थियों के लिए उपयोगी ऐसे और भी पोस्ट नियमित रूप से पाने के लिए कृपया आप हमारे न्यूज़लेटर (Newsletter) को सब्सक्राइब करें.

कृपया इस पोस्ट को शेयर करें!
Subscribe
Notify of
guest

8 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Lucky beniwal
Lucky beniwal
4 months ago

So amazing knowledge in freelancing 👌👌

Mudassir Ahmad
Mudassir Ahmad
5 months ago

So amazing knowledge in freelancing

Lucky beniwal
Lucky beniwal
4 months ago

Yes

MUJEEB RAO
MUJEEB RAO
3 months ago

Good information bro

bhawna kumari
bhawna kumari
2 months ago

nice blog easy to understand