अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस पर निबंध | World Hindi Day 2023 Essay

अपने देश भारत में लगभग 50 करोड़ लोग हिंदी बोलते हैं. इस देश के अलावा मॉरीशस, नेपाल, त्रिनिदाद, फिजी, गुयाना, टोबैगो, आदि देशों में भी इस भाषा का अच्छा चलन है. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हिंदी के महत्व को समझाने के लिए विद्यार्थियों को अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस पर निबंध लिखने को दिया जाता है.

हिंदी भाषा का इतिहास करीब 1000 वर्ष पुराना माना जाता है, एवं ‘हिंदी’ शब्द की उत्पत्ति फारसी के शब्द ‘हिंद’ से हुई है. फारसी में ‘हिंद’ शब्द का अर्थ ‘सिंधु नदी की भूमि’ होती है. ये नाम तुर्की के आक्रमणकारियों ने 11वीं शताब्दी की शुरुआत में दिया था. वे सिंधु नदी के आसपास के क्षेत्र की भाषा को हिंदी यानी ‘सिंधु नदी की भूमि की भाषा’ कहते थे.

इस पोस्ट में हमलोग अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस पर निबंध जानेंगे. जिसके अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस कब और क्यों मनाया जाता है, विश्व हिंदी दिवस कब-कब हुआ, आदि भी जानेंगे. अंत में Vishwa Hindi Diwas Par Nibandh से जुड़े कुछ FAQs भी देखेंगे.

अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस पर निबंध | World Hindi Diwas Essay in Hindi

Hindi Alphabets - World Hindi Day 2023 Essay in Hindi
World Hindi Day

प्रस्तावना | विश्व हिंदी दिवस

हिंदी के 260 मिलियन से भी ज्यादा देसी वक्ता (native speakers) हैं तथा पहली भाषा (first language) के रूप में बोली जाने वाली यह दुनिया की चौथी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है.

कई लोग इसे राष्ट्रभाषा समझते हैं, तो आपको बता दें कि हिंदी राष्ट्रभाषा नहीं है, बल्कि ये राजभाषा है. देवनागरी लिपि हिंदी को भारत की राजभाषा के तौर पर 14 सितंबर 1949 को अपनाया गया था. इसीलिए प्रत्येक वर्ष 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रुप में मनाया जाता है.

इसे बाद में 26 जनवरी 1950 को संविधान के अनुच्छेद 343 में इस भाषा हिंदी को आधिकारिक भाषा (official language) के रूप में मान्यता दी गई थी.

अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस कब मनाया जाता है?

अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस प्रत्येक वर्ष 10 जनवरी को मनाया जाता है, क्योंकि इसी दिन 1975 (10 जनवरी 1975) को नागपुर में पहला विश्व हिंदी सम्मेलन आयोजित हुआ था. उस समय की प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी ने इस प्रथम विश्व हिंदी सम्मेलन का उद्घाटन किया था.

ये तो हुईं विश्व हिंदी सम्मेलन की बात अब अगर विश्व हिंदी दिवस की बात की जाए तो पहली बार अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी दिवस 10 जनवरी 2006 को मनाया गया था.

इस दिवस को प्रति वर्ष मनाने की घोषणा 10 जनवरी 2006 को इस देश के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह ने किए थे. तब से प्रतिवर्ष इस तारीख को विभिन्न सरकारी कार्यालयों और विदेशों में भारतीय दूतावास विश्व हिंदी दिवस मनाते हैं.

अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है?

अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस, हिंदी के प्रचार प्रसार के लिए जागरूकता पैदा करने के लिए तथा इस भाषा को अंतरराष्ट्रीय भाषा के तौर पर पेश करने के लिए मनाया जाता है.

इसका उद्देश्य भी यही है कि हिंदी एक विश्व भाषा के रूप में प्रस्तुत हो, इसका खूब से खूब प्रचार-प्रसार हो, हिंदी की दशा पर लोगों का ध्यान केंद्रित हो तथा हिंदी के प्रति अनुराग पैदा हो.

इस दिन सरकारी कार्यालयों में हिंदी से जुड़े विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं. विदेशों में भारतीय दूतावास इस दिवस को बहुत ज्यादा एहतमाम के साथ मनाते हैं.

ये भी पढ़ें > विश्व हिंदी दिवस (world hindi day) पर एक शानदार भाषण और सुविचार (Qoutes)

विश्व हिंदी सम्मेलन कब-कब हुआ?

जैसा कि ऊपर बताया गया है कि पहला विश्व हिंदी सम्मेलन 10 जनवरी 1975 को नागपुर महाराष्ट्र में हुआ था जो कि 14 जनवरी तक चला था. अब तक होने वाली सभी विश्व हिंदी सम्मेलनों की सूची उनके अवधि, स्थान तथा प्रतिभागी देश की संख्या के साथ नीचे की तालिका में दी जा रही है.

क्र. सं.अवधिस्थानप्रतिभागी देश
110-14 जनवरी 1975नागपुर, भारत30
228-30 अगस्त 1976पोर्ट लुइस, मॉरीशस17
328-30 अक्टूबर 1983नई दिल्ली, भारत30
402-04 दिसंबर 1993पोर्ट लुइस, मारीसस10
504-08 अप्रैल 1996पोर्ट ऑफ़ स्पेन, त्रिनिदाद और टुबैगो10
614-18 सितम्बर 1999लंदन, UK 21
706-09 जून 2003पारामारिबो, सूरीनाम16
813-16 जुलाई 2007न्यू यॉर्क, USA20
922-24 सितम्बर 2012जोहानसबर्ग, दक्षिण अफ्रीका30
1010-12 सितम्बर 2015भोपाल, भारत50
1118-20 अगस्त 2018पोर्ट लुई, मॉरीशस
1215-17 फरवरी 2023 (प्रस्तावित)नाड़ी, फिजी
List of World Hindi Conferences

हिंदी के प्रचार-प्रसार में सलंगन प्रमुख संस्थाएं

लगभग 150 संस्थाएं हिंदी के प्रचार-प्रसार में सलंग्न है. इसमें से ज्यादातर संस्थाएं अपने देश में ही है, तथा कुछ संस्थाएं विदेश में भी है.

हिंदी के प्रचार-प्रसार में सलंग्न प्रमुख राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं की सूची निम्नलिखित हैं:

  • विश्व हिन्दी परिषद
  • अक्षरम्
  • अखिल भारतीय भाषा साहित्य सम्मेलन, पटना
  • मारिशस हिन्दी संस्थान, मारिशस
  • अखिल विश्व हिन्दी समिति
  • अंग्रेजी अनिवार्यता विरोधी समिति
  • अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी समिति, वर्जिनिया (USA)
  • अलबर्टा हिंदी परिषद
  • असम राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, गुवाहाटी
  • उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान, लखनऊ
  • कर्नाटक महिला हिन्दी सेवा समिति, बंगलुरू
  •  केंद्रीय सचिवालय, हिंदी परिषद, नई दिल्ली
  • कथा, UK
  • केन्द्रीय हिन्दी समिति
  • केरल हिन्दी प्रचार सभा, तिरूवनंतपुरम
  • हिन्दी समाज, सिडनी
  • वैज्ञानिक तथा तकनीकी शब्दावली आयोग, नई दिल्ली
  • हिन्दी सोसाइटी, सिंगापुर
  • भारती भाषा संवर्धन संस्थान, दिल्ली
  • हिन्दी शिक्षण योजना, राजभाषा विभाग
विश्व हिंदी दिवस: हिंदी के वैश्विक महत्व पर चर्चा

उपसंहार | World Hindi Day Essay in Hindi

हिंदी दिवस तथा विश्व हिंदी दिवस (world hindi day) तो प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है, पर इसका मकसद अभी तक हासिल नहीं हुआ. कई लोग अभी भी इंग्लिश को सर्वोपरि समझते हैं. इंग्लिश पढ़ना, लिखना और बोलना सीखना चाहिए, परंतु इस के चक्कर में अपनी भाषा हिंदी को पराई समझना कहां का इंसाफ है?

इस antar rashtriya hindi diwas पर ये प्रण लें कि हम ज्यादा से ज्यादा हिंदी ब्लॉग/वेबसाइट, समाचार पत्र, किताब, आदि पढ़ेंगे. जितना लोग हिंदी में कॉन्टेंट कंज्यूम करेंगे, उतना ही ज्यादा हिंदी में लोग कंटेंट बनाना पसंद करेंगे.

विश्व में हिंदी की क्या स्थिति है/ विश्व स्तर पर हिंदी भाषा की स्थिति क्या है?

विश्व में हिंदी की स्थिति बहुत ही अच्छी है. ये अंग्रेजी और मंदारिन चीनी के बाद दुनिया की तीसरी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है. पूरे विश्व में करीब 70 करोड़ हिंदी भाषी लोग हैं.

दिन-ब-दिन हिंदी के बढ़ते उपयोगकर्ता (users) को देखते हुए कई सारी विदेशी वेबसाइट, ऐप, आदि अपने कॉन्टेंट को हिंदी में उपलब्ध करा रही है. विकिपीडिया, विकी हाउ, गूगल जैसे अंतर्राष्ट्रीय वेबसाइट पर भी आपको हिंदी में कॉन्टेंट मिल जाएंगे.

25 से भी अधिक ऐसी विदेशी पत्रिकाएं है जो नियमित रूप से हिंदी में प्रकाशित होती है. बीबीसी यूएई के ‘हम एफएम’ जैसे कई सारे विदेशी चैनल है जो हिंदी में भी अपना कई सारा प्रोग्राम चलाते हैं.

एक रिपोर्ट के अनुसार करीब 94% तक हिंदी सामग्री (content) की खपत बढ़ी है. दुनिया के प्रसिद्ध सोशल नेटवर्किंग साइट जैसे फेसबुक, टि्वटर, क्वोरा आदि में हिंदी भी लिखने की सुविधा दी गई है, तथा हिंदी लिखने के लिए गूगल, माइक्रोसॉफ्ट जैसे बड़े-बड़े दिग्गज कंपनी की ऐप और सॉफ्टवेयर मौजूद है.

विश्व भाषा के रूप में हिंदी/ अंतर्राष्ट्रीय भाषा के रूप में हिंदी 

आज भारत के बाहर नेपाल, भूटान, फिजी, गुयाना सिंगापुर, मॉरीशस, मलेशिया, सूरीनाम, थाईलैंड कनाडा, त्रिनिदाद, हांगकांग, इंग्लैंड और संयुक्त संयुक्त राज्य अमेरिका (USA) में हिंदी भाषा पढ़ने, लिखने और बोलने वाले अच्छी खासी संख्या में है.

अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हिंदी रोजगार की भाषा बनती जा रही है. विश्व के 132 देशों में जा बसे भारतीय मूल के लगभग 2 करोड़ लोग हिंदी माध्यम से ही अपना कार्य निष्पादित करते हैं.

वैश्वीकरण और हिंदी भाषा 

हिंदी के व्यापकता के कारण दुनिया के 175 देशों में हिंदी के शिक्षण एवं प्रशिक्षण के अनेक माध्यम केंद्र बन गए हैं. हिंदी का शिक्षण एवं प्रशिक्षण विश्व के लगभग 180 विश्वविद्यालयों और अन्य शैक्षणिक संस्थाओं में चल रहा है. सिर्फ अमेरिका में 100 से अधिक विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में हिंदी पढ़ाई जा रही है. इससे हिंदी का वर्चस्व दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है

उम्मीद है कि आपको ये विश्व हिंदी दिवस पर निबंध पसंद आया होगा. अगर आपका इससे जुड़ा कोई प्रश्न है तो कृपया कॉमेंट में जरूर पूछें एवं इस पोस्ट अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.

अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस पर निबंध – FAQs 

विश्व हिंदी दिवस सबसे पहले कहां मनाया गया था?

विश्व हिंदी दिवस सबसे पहले 10 जनवरी 2006 को विभिन्न सरकारी कार्यालयों में तथा विदेशों में भारतीय दूतावास द्वारा मनाया गया था.

भारत में कितने प्रतिशत लोग हिंदी भाषा का प्रयोग करते हैं?

2011 की जनगणना के अनुसार भारत में 43.63 प्रतिशत लोग हिंदी भाषा का प्रयोग करते (बोलते) हैं.

12वां विश्व हिंदी सम्मेलन कब और कहां हुआ था?

12वां विश्व हिंदी सम्मेलन अभी नहीं हुआ है, ये अगले महीने होगा. 12वां विश्व हिंदी सम्मेलन 15 से 17 फरवरी, 2023 तक फिजी सरकार के सहयोग से विदेश मंत्रालय द्वारा आयोजित किया जाएगा.

10 जनवरी को कौन सा दिवस मनाया जाता है?

10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस मनाया जाता है.

12वें विश्व हिंदी सम्मेलन का विषय (theme) क्या था?

12वें विश्व हिंदी सम्मेलन का मुख्य विषय (theme) “हिन्‍दी – पारंपरिक ज्ञान से कृत्रिम मेधा तक” है.

कृपया इस पोस्ट को शेयर करें!
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments